अब तक कभी नहीं हुआ अफ्रीका का ऐसा हाल, टीम इंडिया ने बनाए बड़े रिकॉर्ड

डरबन के बाद सेंचुरियन में भी टीम इंडिया ने साउथ अफ्रीका को धूल चटाकर छह मैचों की वनडे सीरीज में 2-0 की बढ़त हासिल कर ली है. इस तरह लगातार दो मैच जीतकर विराट ब्रिगेड ने मेजबान टीम पर अपना दबदबा बना लिया है.

आपको बता दें कि यह दूसरा मौका है जब टीम इंडिया ने अफ्रीकी धरती पर लगातार दो वनडे मुकाबलों में जीत दर्ज की है. इससे पहले साल 2010-11 के दौरे पर टीम इंडिया ने जोहानिसबर्ग और केपटाउन में खेले गए वनडे मैचों में जीत दर्ज कर लगातार दो मुकाबले जीते थे.

अपने घर में सबसे सस्ते में ढेर हुई अफ्रीकी टीम, चहल-कुलदीप का नहीं मिला तोड़

आइए एक नजर डालते हैं अफ्रीकी टीम के अनचाहे रिकॉर्ड्स पर

1. रविवार को सेंचुरियन में खेले गए दूसरे वनडे में साउथ अफ्रीका की टीम 118 रनों पर ऑल आउट हो गई थी. यह घर में उसका न्यूनतम वनडे स्कोर है.

 

2. टीम इंडिया ने साउथ अफ्रीका को इस मैच में 177 गेंद शेष रहते हरा दिया, जो अपने घर में खेलते हुए साउथ अफ्रीकी टीम की वनडे में सबसे बड़ी हार है.

3. इसके अलावा मजे की बात यह है कि रंगभेद नीति के कारण निलंबन झेलने के बाद इंटरनेशनल क्रिकेट में वापसी करने वाली साउथ अफ्रीकी टीम ने साल 2015 में खेले गए नागपुर टेस्ट में भारत के खिलाफ अपने न्यूनतम टेस्ट स्कोर 79 का रिकॉर्ड बनाया था.

4. इंटरनेशनल क्रिकेट में वापसी के बाद साउथ अफ्रीका को भारत के खिलाफ टेस्ट में सबसे बड़ी हार साल 2015 में दिल्ली टेस्ट में मिली थी.  इस मैच में टीम इंडिया ने अफ्रीका को 337 रनों से बड़ी शिकस्त दी थी

कोहली और धवन

भारत को साउथ अफ्रीका के खिलाफ सेंचुरियन वनडे में जीत के लिए जब केवल दो रन चाहिए थे, तभी अंपायरों ने लंच के नियमों का हवाला देते हुए खेल रोक दिया, जिससे आईसीसी के इस अजीबोगरीब नियम की हर जगह किरकिरी हो रही है.

टीम इंडिया के पूर्व विस्फोटक बल्लेबाज वीरेंद्र सहवाग ने ट्विटर पर अंपायरों के इस फैसले का मजाक उड़ाया है. उन्होंने मजाकिया अंदाज में लिखा, 'अंपायर भारतीय बल्लेबाजों के साथ वैसा ही व्यवहार कर रहे हैं, जैसे सार्वजनिक क्षेत्र के बैंक ग्राहकों के साथ करते हैं. लंच के बाद आना.'

 

Umpires treating Indian batsmen like PSU Bank treat customers. Lunch ke baad aana

सेंचुरियन वनडे के अंपायर अलीम डार, एड्रियन होल्डस्टोक और मैच रेफरी एंडी पाइक्रॉफ्ट का टीवी कमेंटेटरों और क्रिकेट एक्सपर्ट्स ने मजाक उड़ाया है.

वेस्टइंडीज के पूर्व दिग्गज माइकल होल्डिंग ने इस फैसले को हास्यास्पद करार दिया. उन्होंने कमेंट्री करते हुए कहा, ‘वे (आईसीसी) खेल को आकर्षक बनाना चाहते हैं लेकिन यह हास्यास्पद फैसला है.'

जीत के लिए चाहिए थे 2 रन, अंपायर ने कहा- कर लो लंच, खिलाड़ी से लेकर दर्शक हैरान

 

ये था पूरा मामला

टीम इंडिया ने साउथ अफ्रीका को 32.3 ओवर में 118 रन पर ऑल आउट कर दिया, जिसके बाद कप्तान विराट कोहली और शिखर धवन की धमाकेदार शुरुआत से टीम इंडिया ने 19 ओवर में 117 रन बना लिए थे.

लेकिन जब भारतीय टीम जीत से सिर्फ 2 रन दूर थी, तभी अंपायरों ने लंच ब्रेक का ऐलान कर दिया. जब टीम को जीत के लिए सिर्फ 2 रन चाहिए थे उस दौरान लंच ब्रेक का यह फैसला काफी चौंकाने वाला था.

इस फैसले से खिलाड़ी, दर्शक और कमेंटेटर हैरान थे. लेकिन, अंपायर नियमों पर अडिग रहे जिसके कारण 40 मिनट के लंच ब्रेक के बाद फिर से भारतीय शुरू हुई और उसने दो रन बनाकर छह मैचों की सीरीज में 2-0 से बढ़त बनाई.

पोस्ट टॅग्ज:

http://bolindiabol.news

Abdul Rehman

त्यापैकी एक उत्तम रिपोर्टर BolIndiaBol. बातम्यांचा लिहा खेल, पण इतर गोष्टींचे अन्वेषण करायलाही आवडेल


रिपॉएटरच्या अधिक बातम्या